Verse Of The Day

Verse Of The Day -    क्रूस का संदेश : पिता, मैं अपनी आत्मा तेरे हाथों में सौपता हूं ( लुका 23:46 ) ## यीशु जो हमारे उधारकर्ता की तरह से पृथ्वी पर आया, उसने अपने आत्मा और प्राण परमेश्वर के हाथों में क्यों क्यों सौपे ?     मनुष्य आत्मा, प्राण और देह से बना है ! जब वह मर जाता है तो उसकी आत्मा और प्राण देंह को छोड़ देता है ! यदि वह परमेश्वर का सत्य संतान है तो उसकी आत्मा और प्राण परमेश्वर के पास जाते हैं, अन्यथा, उसकी आत्मा और प्राण नरक में जाते हैं ( लुका 16:19-31 ) ! उसकी देह दफनाई जाती है और मिट्टी में मिल जाती है !     परमेश्वर का पुत्र यीशु देहधारी हुआ और इस संसार में आया !हमारे समान उस में आत्मा, प्राण और देह थे ! जब वह क्रूस पर लटकाया गया तो उसकी देह मर गई आत्मा और प्राण नहीं; उसने  अपनी आत्मा और प्राण परमेश्वर के हाथों में सौंप दिए !      जब आप मरते हैं तो परमेश्वर आपकी आत्मा और प्राण दोनों को ग्रहण करता है ! यदि परमेश्वर केवल आत्मा को ग्रहण करता, प्राण को नहीं तो आप स्वर्ग में सच्ची प्रसंता को कभी अनुभव नहीं कर सकते अथवा हृदय की गहराई से कभी आभारी नहीं हो सकते ! क्यों ? क्योंकि आप इन बातों को याद नहीं कर सकेंगे जो आपकी प्राण से निकलती है, जैसे आंसू, दु:ख, पीड़ा तथा अन्य बाते जो आपने पृथ्वी पर अपने सही ! इसलिए परमेश्वर आत्मा और प्राण दोनों को ग्रहण करता है !       तब यीशु ने अपनी आत्मा और प्राण परमेश्वर को क्यों सोपें ?यह इसलिए की परमेश्वर सृष्टि करता है, जो ब्रह्मांड की प्रत्येक वस्तु को संचालित करता है और आपके जीवन, मृत्यु, शाप तथा आशीषों का ध्यान रखता है कहना यह है कि प्रत्येक वस्तु परमेश्वर की है और उसकी प्रभुता में है ! केवल परमेश्वर ही है जो आपकी प्रार्थना का उत्तर देता है ! इसलिए यीशु को अपनी आत्मा तथा प्राण को सौपने के लिए पिता परमेश्वर से विनती करनी पड़ी ( मति 10:29-31 ) ! आमीन ---        "हे परमेश्वर के पवित्र जन परमेश्वर की ओर हमारे प्रभु यीशु की पहचान के द्वारा अनुग्रह और शांति तुम में बहुतायत से बढ़ती जाए !आमीन 

Pray To Praise Christian Radio






                  Clik To Download Pray To Praise AndroidApp
 Pray To Praise (Christian Radio Online) 24/7

About us  
Praise : One way to praise the LORD is to thank Him daily in prayer for supplying our daily physical needs. We should also thank Him for the satisfying and refreshing bread and water of life. Songs of worship and thanksgiving also praise God. It is good to sing aloud at Christian gatherings.

Prayer is a simple concept. It’s just a conversation with God.

But at the same time, prayer can be intimidating. After all, you’re talking to the Almighty! It can be hard to know how to ask for your requests, and anticipate how God will answer.

That’s why Rick Warren’s just-released resource called Experience God’s Power Through Prayer is so powerful. It’s not a passive book to simply read, but an interactive, guided experience to help you gain confidence in your prayer life.


Worship Together is t he best and most comprehensive resource on the web for worship leaders, worship bands and worship teams

PRAY TO PRAISE worship songs from around the world have played a historic role in providing the Body of Christ with songs marked by intimacy with God, Kingdom theology, and a call to passionate mission.

The 20th and 21st century church, around the world, has been deeply impacted by praise and worship songs like Come, Now Is The Time To Worship, Breathe, Draw Me Close, Faithful One, and many others from the PRAISE movement.

A host of today’s worship songwriters and worship movements have also been deeply influenced by the authentic worship music that has poured from the Vineyard over the past 40 years – and we’re just getting started.

Because so many worship leaders search for their songs online, and via video, WWW.PRAYTOPRAISE.COM has been created to serve you, and the church of our time.

With over 700+ worship songs, and more being added daily, an entire catalogue of rich worship music resources is now placed at the fingertips of local church worship leaders – and those who simply love the music of the PRAISE